मूल(मौलिक) अधिकार एवं नीति निर्देशक तत्वों में अंतर

मूल (मौलिक) अधिकार(Fundamental rights) किसी भी राष्ट्र के निर्माण में उनके नागरिको को दिए गए मौलिक अधिकार महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।व्यक्ति के नैतिक,भौतिक,आध्यात्मिक तीनों ही संदर्भों में संतुलित विकास के लिए आवश्यक न्यूनतम अधिकार मूलाधिकार होते हैं, और विधि का शासन इन्हें अर्थपूर्ण बनाने का प्रयास करते हैं। यही कारण है कि इन्हें कतिपय प्रतिबंधों …

Read moreमूल(मौलिक) अधिकार एवं नीति निर्देशक तत्वों में अंतर

error: Content is protected !!