IAS Full form, eligibility, salary all details in hindi

आईएएस फुल फॉर्म, eligibility, salary, enterance exam all details in hindi

IAS भारत की सर्वोच्य महत्वपूर्ण प्रशासनिक सेवा है। जिसे लेकर कई तरह के सवाल हमारे मन में उठते रहते हैं। जैसे कि आईएएस की फुल फॉर्म क्या होती है?, IAS  Full form in hindi, IAS  KI FULL FORM, आईएएस  किसे कहते हैं, यह क्या होता है, IAS कैसे बनते है, IAS abbreviation,  आदि आदि। इस लेख में हम आपको आपके इन सभी सवालों के जवाब दे रहे हैं। आशा है, आपको जवाब पसंद आएंगे।

ये भी पढ़िये : Full form of AM and PM ,पीएम और एम कब होता है?

MLA full form, एमएलए का फुल फॉर्म, work of MLA

IAS full form in english (आईएएस फुल फॉर्म)

IAS full form – “Indian Administrative Service” होता है।

IAS
IAS

IAS full form in hindi

IAS को हिंदी में “भारतीय प्रशासनिक सेवा” कहते हैं।

और पढ़िए : MBBS की फुल फॉर्म, योग्यता आदि

IAS बनने के लिए शैक्षिक योग्यता (Educational qualification to become an IAS officer)

आईएएस बनने के लिए व्यक्ति का कम से कम किसी भी विषय में स्नातक (graduate) होना जरूरी होता है।

IAS के लिए entrance exam (entrance examination to become an IAS officer)

आईएएस के लिए हर साल संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा परीक्षा आयोजित की जाती है। जिसमे लाखो छात्र उपस्थित होते है। जिससे इस परीक्षा में प्रतियोगिता का स्तर बहुत बड़ जाता है। इस परीक्षा में उतीर्ण छात्रों के प्राप्तांको के आधार पर ही सेवा का चयन होता है। जैसे IAS, IPS, IRS,IRTS etc..

UPSC यह परीक्षा तीन चरणों में लेता है। प्रारंभिक परीक्षा (preliminary examination), मुख्य परीक्षा (mains examination) तथा इंटरव्यू (interview)।

प्रारंभिक परीक्षा वस्तुनिष्ठ (objective exam) प्रकार की होती है,मुख्य परीक्षा वर्णनात्मक(descriptive exam) प्रकार की होती है।

Ias की सैलरी ( salary of IAS)

सबसे ज्यादा पूछे जाने वाले सवालों में से यह एक महत्वपूर्ण सवाल होता है कि आईएएस की सैलरी क्या होती है (ias ki salary kya hoti hai), डीएम की सैलरी क्या होती है। ( DM ki salary kya hoti hai ), एसडीएम की सैलरी क्या होती है। (sdm ki salary kya hoti hai)।

यहाँ सैलरी के बारे में एकदम सटीक बताना तो उचित नही होगा क्योकि यह पद पर निर्भर करता है की ias किस पद का निर्वहन कर रहा है। उस पद के हिसाब से ही सैलरी और वेतन भत्तों का निर्धारण होता है।

2 साल की ट्रेनिंग के बाद इनकी मुख्य सैलरी 5400 ग्रेड पे से शुरू होती है। और कई तरीके के भत्ते अलग से मिलते है। और सरकारी वाहन मिलता है।

Also read : Iso full form in hindi,iso certificate meaning,iso क्या होता है?

Leave a Comment

error: Content is protected !!